Krishna Mantra

वसुदेवसुतं देवं कंसचाणूरमर्दनम् । देवकी परमानन्दं कृष्णं वन्दे जगद्गुरुम् ॥  भावार्थ :कंस और चाणूर का वध करनेवाले, देवकी के आनन्दवर्द्धन, …

Read moreKrishna Mantra

Lakshmi Mantra (लक्ष्मी मंत्र)

नमस्ये सर्वलोकानां जननीमब्जसम्भवाम् । श्रियमुन्निद्रपद्माक्षीं विष्णुवक्षःस्थलस्थिताम् ॥ भावार्थ : सम्पूर्ण लोकों की जननी, विकसित कमल के सदृश नेत्रों वाली, भगवान् …

Read moreLakshmi Mantra (लक्ष्मी मंत्र)

Saraswati Mantra (सरस्वती मंत्र)

या कुन्देन्दुतुषारहारधवला या शुभ्रवस्त्रावृता या वीणावरदण्डमण्डितकरा या श्वेतपद्मासना ।या ब्रह्माच्युतशंकरप्रभृतिभिर्देवैः सदा पूजिता सा मां पातु सरस्वती भगवती निःशेषजाड्यापहा ॥ भावार्थ …

Read moreSaraswati Mantra (सरस्वती मंत्र)

Shiv Mantras

नागेन्द्रहाराय त्रिलोचनाय भस्माङ्गरागाय महेश्वराय।नित्याय शुद्धाय दिगम्बराय तस्मै नकाराय नम: शिवाय ॥ भावार्थ : जो शिव नागराज वासुकि का हार पहिने …

Read moreShiv Mantras

Sanskrit Shlokas

गच्छन् पिपिलिको याति योजनानां शतान्यपि ।अगच्छन् वैनतेयः पदमेकं न गच्छति ॥ भावार्थ : लगातार चल रही चींटी सैकड़ों योजनों की …

Read moreSanskrit Shlokas